Menu

BJP

बंगाल चुनाव : छठे चरण में 43 विधानसभा क्षेत्रों में वोटिंग आज, 306 उम्मीदवार मैदान में


प्रतीकात्मक फोटो.

कोलकाता:

West Bengal Assembly Elections: पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए छठे चरण के चुनाव में गुरुवार को 43 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान (Voting) होगा और एक करोड़ से अधिक मतदाता 306 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला कर सकेंगे. कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच निर्वाचन आयोग (Election Commission) के एक अधिकारी ने कहा कि पिछले चरणों में हिंसा को देखते हुए सुरक्षा उपाय सख्त किए गए हैं. चौथे चरण के मतदान में 10 अप्रैल को कूच बिहार में पांच लोगों की मौत हो गई थी.

यह भी पढ़ें

उन्होंने कहा कि आयोग ने स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए छठे चरण में केंद्रीय बलों की कम से कम 1,071 कंपनियों को तैनात करने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि मतदान प्रक्रिया के दौरान कोविड संबंधी दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाएगा. पश्चिम बंगाल में मंगलवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के 9,819 नए मामले सामने आए जो अब तक किसी एक दिन का सर्वोच्च स्तर है.

इस चरण में उत्तर 24 परगना जिले की 17 सीटों के अलावा नादिया और उत्तर दिनाजपुर की नौ-नौ तथा पूर्व बर्द्धमान की आठ सीटों पर मतदान होना है. इस चरण के प्रमुख उम्मीदवारों में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय, तृणमूल के मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक और चंद्रिमा भट्टाचार्य तथा माकपा नेता तन्मय भट्टाचार्य शामिल हैं. इसके अलावा फिल्म निर्देशक राज चक्रवर्ती और अभिनेत्री कौसानी मुखर्जी भी तृणमूल प्रत्याशी के रूप में मैदान में हैं.

पश्चिम बंगाल में अब बीजेपी की कोई बड़ी चुनावी जनसभा नहीं होगी

चार जिलों के 43 विधानसभा क्षेत्रों में 14,480 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. माना जा रहा है कि इस चरण में मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच होगा.



Source link

पश्चिम बंगाल : CM ममता बनर्जी के कथित ऑडियो से खड़ा हुआ विवाद, TMC ने बताया फर्जी


TMC ने ऑडियो क्लिप को फर्जी करार दिया है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • ममता बनर्जी का बताया जा रहा ऑडियो
  • अमित मालवीय ने शेयर की ऑडियो क्लिप
  • तृणमूल कांग्रेस ने क्लिप को बताया फर्जी

कोलकाता:

BJP द्वारा शुक्रवार को एक तथाकथित ऑडियो क्लिप जारी किए जाने के बाद विवाद खड़ा हो गया, जिसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) सीतलकूची से तृणमूल कांग्रेस (TMC) के उम्मीदवार से कथित तौर पर यह कहती सुनाई देती हैं कि वह CISF की गोली से मारे गए चार लोगों के शवों के साथ रैलियां करें. तृणमूल कांग्रेस ने ऑडियो क्लिप को ‘‘फर्जी” करार दिया और कहा कि इस तरह की कभी कोई बात नहीं हुई. स्वतंत्र रूप से ऑडियो क्लिप की प्रामाणिकता का सत्यापन नहीं हो सका है, जो चुनाव के पांचवें चरण के मतदान की पूर्व संध्या पर जारी की गया.

यह भी पढ़ें

ममता बनर्जी और सीतलकूची विधानसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार पार्थ प्रतिम राय (Pratim Roy) के बीच टेलीफोन पर हुई कथित बातचीत के अंश जारी करते हुए भाजपा की आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने दावा किया कि ममता बनर्जी अपनी पार्टी के नेताओं से शवों के साथ रैलियां करने की बात कहकर दंगे भड़काने की कोशिश कर रही हैं.

यही चुनाव तय करेगा ममता बनर्जी का भविष्य, BJP का भावी स्वरूप

मालवीय ने कहा, ‘‘वह (बनर्जी) अपनी पार्टी के उम्मीदवार से कह रही हैं कि मामला इस तरह का बनाया जाए कि पुलिस अधीक्षक (कूचबिहार) और केंद्रीय बलों के कर्मियों-दोनों को फंसाया जा सके. क्या किसी मुख्यमंत्री से ऐसी उम्मीद की जाती है? वह केवल अल्पसंख्यकों के वोट हासिल करने के लिए भय का माहौल पैदा करने की कोशिश कर रही हैं.”

कूचबिहार जिले के सीतलकूची मतदान केंद्र पर 10 अप्रैल को चौथे चरण के मतदान के दौरान स्थानीय लोगों के कथित हमले और राइफल छीनने की कथित कोशिश के बाद केंद्रीय बलों की गोलीबारी में चार लोग मारे गए थे. भाजपा के सूत्रों ने कहा कि पार्टी ऑडियो क्लिप के मुद्दे पर निर्वाचन आयोग जाएगी. तथाकथित ऑडियो में बनर्जी राय से यह कहती सुनाई देती हैं कि मतदान खत्म होने तक गुस्सा शांत रखें.

BJP बंगाल में बाकी चरणों के चुनाव एक साथ कराने के पक्ष में नहीं, चुनाव आयोग को दी ये दलील

वह कथित तौर पर यह कहती सुनाई देती हैं, ‘‘घबराइए मत. आप अगले दिन शवों के साथ रैली करने के इंतजाम करें और वकील से विमर्श करें तथा पुलिस में शिकायत दर्ज कराएं जिससे कि न तो एसपी बच सके और न ही आईसी.”

सीतलकूची से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार ने ऑडियो को ‘‘फर्जी” करार दिया. उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह की बातचीत कभी नहीं हुई. भाजपा पांचवें दौर के मतदान से पहले लोगों को केवल गुमराह करने की कोशिश कर रही है.”

पूर्व में, ममता बनर्जी ने गोलीबारी को नरसंहार करार दिया था और इसे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की साजिश बताया था. बंगाल में आठ चरणों में हो रहे विधानसभा चुनाव के तहत अब तक चार दौर का मतदान हो चुका है और बाकी चरणों का मतदान 17 से 29 अप्रैल के बीच होगा.

VIDEO: खबरों की खबर : क्या चुनावी रैलियों पर लागू नहीं होते कोरोना के नियम-कायदे?

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी के "मिनी पाकिस्तान" वाले बयान पर निर्वाचन आयोग ने दी चेतावनी, कही यह बात


नंदीग्राम सीट पर अधिकारी का मुकाबला पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से है.

नई दिल्ली:

निर्वाचन आयोग (Election Commission) ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) के नंदीग्राम में भाजपा उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) द्वारा पिछले महीने एक रैली में की गई “मिनी-पाकिस्तान” (Mini Pakistan) संबंधी टिप्पणी को लेकर झिड़की लगाये जाने के अलावा उन पर कोई कार्रवाई नहीं की.चुनाव निकाय ने सोमवार रात जारी एक आदेश में अधिकारी को चेतावनी (warning) दी और कहा कि “उन्हें सलाह दी जाती है कि जब आदर्श आचार संहिता लागू हो, तो इस दौरान सार्वजनिक बयानबाजी करते समय वह इस तरह के बयान देने से परहेज करें.”आदेश में कहा गया है कि निर्वाचन आयोग (Election Commission) का मानना है कि अधिकारी ने राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों के मार्गदर्शन के लिए आदर्श आचार संहिता के भाग एक के पैरा दो और तीन का उल्लंघन किया है.

यह भी पढ़ें

चुनाव आयोग ने शुभेंदु अधिकारी को भी थमाया नोटिस, विवादित बयान पर मांगा जवाब

नंदीग्राम सीट (Nandigram Seat) पर अधिकारी का मुकाबला पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) से है. नंदीग्राम में मतदान संपन्न हो चुका है. आयोग को भाकपा-माले केंद्रीय समिति सदस्य कविता कृष्णन की ओर से एक शिकायत मिली थी जिसमें आरोप लगाया गया था कि 29 मार्च को नंदीग्राम में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अधिकारी ने ‘आपत्तिजनक भाषा’ का इस्तेमाल किया था. आयोग ने अधिकारी को उनके भाषण को लेकर आठ अप्रैल को नोटिस जारी था.

West Bengal Polls Voting: तीसरे चरण के तहत 31 सीटों पर वोटिंग जारी, तय होगी 205 उम्मीदवारों की किस्मत

अधिकारी ने नोटिस के जवाब में कहा कि वह स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव में पूरा विश्वास रखते हैं जहां उम्मीदवारों के बीच कोई दुर्भावना नहीं हो तथा राजनीतिक विरोधियों की आलोचना करते हुए कोई व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं की जाए. भाजपा नेता ने कहा कि उनकी किसी की व्यक्तिगत आलोचना करने या किसी के खिलाफ अपमानजनक बयान देने की कोई दुर्भावना नहीं थी. उन्होंने कहा कि वह निर्वाचन आयोग के किसी भी निर्देश का पालन करेंगे.

Video : शुभेंदु अधिकारी का TMC पर आरोप, BJP वर्कर को घर में घुसकर मारा

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

बंगाल में चौथे चरण का चुनाव आज, सियासी मैदान में BJP के 3 सांसद और TMC के 2 मंत्री भी


निर्वाचन आयोग ने 44 निर्वाचन क्षेत्रों में बनाए 15,940 मतदान केंद्रों में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (CAPF) की कम से कम 789 टुकड़ियों को तैनात किया है. सीएपीएफ की सबसे अधिक 187 टुकड़ियों की तैनाती कूचबिहार में होगी, जहां चुनाव प्रचार के दौरान हिंसा की छिटपुट घटनाएं देखी गई थीं. ऐसी ही एक घटना में तृणमूल कांग्रेस के कथित समर्थकों ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष पर हमला किया था.

नंदीग्राम में ममता बनर्जी पर हमले की सीबीआई जांच से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

चौथे चरण में होने वाले हाई प्रोफाइल मुकाबलों में कोलकाता में बंगाली फिल्म उद्योग का दिल कहे जाने वाले टॉलीगंज से बाबुल सुप्रियो और मौजूदा विधायक अरुप बिस्वास के खिलाफ चुनावी जंग दिलचस्प होगी. वहीं टीएमसी के महासचिव पार्थ चटर्जी लगातार चौथी बार विधानसभा चुनाव जीतने की कवायद में बेहाला पश्चिम सीट से भाजपा की उम्मीदवार एवं फिल्म अभिनेत्री श्राबंती चटर्जी को टक्कर देंगे.

शनिवार को होने वाले चुनाव में टीएमसी से भाजपा में शामिल हुए राजीव बनर्जी की किस्मत का भी फैसला होगा. ममता बनर्जी मंत्रिमंडल में पूर्व मंत्री राजीव बनर्जी हावड़ा जिले के दोमजुर से चुनाव लड़ेंगे. टीएमसी का साथ छोड़ भाजपा में शामिल शुभेंदु अधिकारी और राजीव बनर्जी लगभग हर चुनावी सभा में टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी के निशाने पर रहे हैं और उन्होंने उन्हें ‘‘गद्दार” तथा मीर जाफर तक बुलाया.

बंगाल चुनाव : ममता ने वोटरों से कहा, ‘चौकन्‍ने रहें, गांवों में धमकाने पहुंच सकते हैं केंद्रीय बलों के जवान’

गौरतलब है कि मीर जाफर ने 1757 में प्लासी की ऐतिहासिक लड़ाई में बंगाल के नवाब सिराज-उद-दौला के साथ गद्दारी की थी. वहीं राजीव बनर्जी ने चुनावी सभाओं में कहा है कि टीएमसी की ‘‘भ्रष्ट नीतियों” और उसके नेताओं के अहंकार तथा जन विरोधी कदमों के कारण पार्टी में बने रहना असंभव हो गया था.

इस चरण में भाजपा के सांसद लॉकेट चटर्जी और नितिश प्रमाणिक हुगली तथा कूचबिहार जिलों में क्रमश: चुचुड़ा तथा दिनहाटा सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं. उनके चुनाव लड़ने पर चुटकी लेते हुए ममता बनर्जी ने कहा था कि भगवा पार्टी के पास योग्य उम्मीदवार नहीं हैं, जिसके चलते उसे अपने सांसदों को चुनावी मैदान में उतारना पड़ा है. इस पर भाजपा ने कहा कि सांसदों को उम्मीदवार बनाना यह दिखाता है कि वह पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव को कितनी अहमियत देती है.

बंगाल चुनाव : अभिषेक बनर्जी बोले, ‘वोट खरीदने के लिए धन बांट रही BJP, उनसे रुपये ले लें पर वोट TMC को दें’

शनिवार को होने वाले चुनाव में कुल 1,15,81,022 मतदाता 373 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला कर सकेंगे. हावड़ा में नौ विधानसभा सीटों, दक्षिण 24 परगना में 11, अलीपुरद्वार में पांच, कूचबिहार में नौ और हुगली में 10 सीटों पर मतदान होगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभिन्न स्थानों पर भाजपा उम्मीदवारों के लिए प्रचार किया. वहीं टीएमसी की ओर से ममता बनर्जी और उनके भतीजे एवं लोकसभा सांसद अभिषेक बनर्जी ने कई निर्वाचन क्षेत्रों में जनसभाएं कीं.

VIDEO: ममता बनर्जी के समर्थन में महिलाएं, बोलीं- ममता दीदी ही चुनाव जीतेंगी

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Election Commission Notice To DMK's Udhayanithi Stalin For Remarks On Sushma Swaraj, Arun Jaitley


Assembly elections were held in Tamil Nadu in a single phase on Tuesday (File)

New Delhi:

The Election Commission Tuesday issued a notice to DMK leader Udhayanithi Stalin for his alleged remarks that BJP leaders Sushma Swaraj and Arun Jaitley died as they were “unable to tolerate the pressure and torture” given by Prime Minister Narendra Modi.

The EC has asked him to respond to the notice before 5.00 pm on Wednesday, “failing which the Commission shall take a decision without any further reference to you”.

The notice said the Commission received a complaint from the BJP on April 2  alleging that Udhayanithi Stalin, while addressing a political gathering in Dharapuram on March 31, made a statement that “Sushma Swaraj and Arun Jaitley (both Union ministers) died unable to tolerate the pressure and torture given by Prime Minister Narendra Modi”.

The Commission said it is of the view that the contents of the speech made by him violates the provision of model code of conduct which states that “Criticism of other political parties, when made, shall be confined to their policies and programme, past record and work. Parties and candidates shall refrain from criticism of all aspects of private life, not connected with the public activities of the leaders or workers of other parties. Criticism of other parties or their workers based on unverified allegations or distortion shall be avoided”.

Assembly elections were held in Tamil Nadu in a single phase on Tuesday.



Source link

'BJP चुनाव जीतने की मशीन नहीं बल्कि दिल जीतने का अभियान',पार्टी के स्थापना दिवस पर बोले PM मोदी


आखिरी पायदान पर खड़े इंसान तक सरकार की योजनाओं को पहुंचाना पहुंचाना हमारी विशेषता: PM मोदी

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी ने मंगलवार को कहा कि भाजपा चुनाव जीतने की मशीन नहीं बल्कि देशवासियों का दिल जीतने वाला अविरल व अनवरत अभियान है और भाजपा की सरकारों का मतलब राष्ट्र निर्माण, सही नीति, साफ नीयत और सटीक निर्णय है. भाजपा के स्थापना दिवस के अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि भाजपा का मतलब परिवारवाद की राजनीति से मुक्ति और सुशासन है. केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का विस्तार से उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि पहले सरकारों के प्रदर्शन का मानदंड उसकी घोषणाओं से होता था लेकिन पिछले कुछ सालों में यह अवधारणा बदली है और अब सरकारों का मूल्यांकन केंद्र की योजनाओं का जमीन तक पहुंचने से हो रहा है. 

यह भी पढ़ें

उन्होंने कहा, ‘‘आखिरी पायदान पर खड़े इंसान तक सरकार की योजनाओं को पहुंचाना और हकदार तक उसका हक पहुंचाना हमारी सरकार की विशेषता रही है। यह भाजपा सरकारों के कामकाज का मूल मंत्र रहा है.” मोदी ने कहा कि इसके बावजूद भाजपा जब चुनाव जीतती है तो उसे चुनाव जीतने की मशीन कहा जाता है जबकि दूसरे जीतते हैं तो पार्टी और उसके नेताओं की वाहवाही की जाती है. उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह के दो मापदंड हम देख रहे हैं. जो लोग कहते हैं कि भाजपा चुनाव जीतने की मशीन है, वह एक प्रकार से भारत के लोकतंत्र की परिपक्वता, भारत के नागरिकों की सूझबूझ का आकलन ही नहीं कर पाते हैं.”

उन्होंने कहा, ‘‘सच्चाई यह है कि भाजपा चुनाव जीतने की मशीन नहीं, देश और देशवासियों का दिल जीतने वाला अविरल, अनवरत अभियान है। हम पांच साल तक ईमानदारी से जनता की सेवा करते हैं। हर परिस्थिति में हम जनता से जुड़े रहते हैं. जनता के लिए जीते रहते हैं.” प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा की सरकारों का मतलब राष्ट्र निर्माण के लिए सही नीति, साफ नीयत और सटीक निर्णय है.  उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा की सरकार का मतलब है राष्ट्र प्रथम। देशहित से समझौता नहीं बल्कि देश की सुरक्षा सर्वोपरि. भाजपा का मतलब है वंशवाद, परिवारवाद की राजनीति से मुक्ति, भाजपा का मतलब है योग्यता को अवसर, पारदर्शिता और सुशासन। भाजपा का मतलब है सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास.”

मोदी ने कहा कि आज भाजपा भारत की विविधता में एकता और अनेकता में एकता की प्रतीक बन गई है. उन्होंने कहा, ‘‘हम हर भाषा, क्षेत्र, संप्रदाय और सभी देशवासियों को जोड़कर आगे बढ़ रहे हैं. आज भाजपा से गरीब भी जुड़ा है, मध्यमवर्ग भी हमारे साथ है. हम शहर में भी हैं और गांव में भी हैं. भाजपा आज राष्ट्रीय हित की भी पार्टी है और क्षेत्रीय आकांक्षाओं की भी पार्टी है.”

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

West Bengal elections 2021 phase 3 live updates | One injured in crude bomb explosion outside polling booth in Canning Purba Assembly segment


A three-cornered battle is on the cards in 31 Assembly seats that are set to go to polls on Tuesday in the third phase of Bengal elections, with the BJP seeking to breach TMC fortresses, and Left Front-ISF-Congress alliance hoping to make a mark in areas, where identity politics has gained ground.

More than 78.5 lakh voters are eligible to exercise their franchise and decide the fate of 205 candidates — prominent among them being BJP leader Swapan Dasgupta, TMC minister Ashima Patra and CPI(M) leader Kanti Ganguly — in three districts — Howrah, Hooghly and South 24 Parganas.

Tight security arrangements have been made to ensure peaceful voting, with 618 companies of CAPF deployed to guard 10,871 polling stations, all of which have been marked “sensitive” by the Election Commission. State police forces will also be deputed at strategic locations to aid the CAPF.

Here are the live updates:

9.45 am

Voters were seen maintaining COVID-19 protocols in polling booths in 136-Joynagar (SC) AC, in South 24 Parganas in West Bengal on April 6, 2021.
 
| Photo Credit: Subham Dutta

 

Polling till 9 a.m. was reported at about 15%.

9.45 am

One injured in crude bomb explosion outside a polling booth in Canning Purba Assembly segment.

Saukat Mollah, TMC candidate blames Indian Secular Front supporters for the violence.

– Shiv Sahay Singh

9.15 am

Mograhat Paschim South 24 Parganas Trinamool Congress candidate and Minister Giyasuddin Mollah and ISF candidate Maidul Islam accuse each other of intimidating voters outside the polling booth.

Diamond Harbour BJP candidate Dipak Halder alleges that voters are not being allowed to cast their votes in certain areas. Mr. Halder says he has sought intervention of the Election Commission.

TMC candidate from Dhanekhali in Hooghly makes similar allegations against BJP supporters.

– Shiv Sahay Singh

9 am

Regarding the incident in the Goghat Assembly area, police said today, that the wife of a BJP supporter was allegedly killed on Monday around 11 p.m.

Madhabi Adak was injured as she tried to save her husband when a few men barged into their home and attacked him, they said. Adak’s family alleged that the Trinamool Congress was behind the incident, a charge denied by the ruling party.

– PTI

9 am

Overnight violence was reported in some parts of the State.

A woman was found dead in Goghat Assembly area in Hooghly.

Villagers in Baruipur Purba Assembly segment in South 24 Parganas alleged that they have been threatened to not cast their vote.

– Shiv Sahay Singh

8.40 am

Sector Officer of Uluberia Uttar consituency of Howrah district was suspended by the Election Commission for sleeping over at a relative’s house with reserve EVMs.

“Tapan Sarkar, sector officer of Sector 17 in AC 177 Uluberia Uttar at Howrah District went with Reserve EVM and slept at a relative’s house. This is a gross violation of ECI’s Instructions for which the Sector Officer has been suspended and charges will be framed for major punishment. The Sector Police attached to Sector Officer have also been directed to be suspended. The said EVM and VVPAT have been taken out of the stock and shall not be used in the polls,” the Election Commission said.

Villagers spotted a vehicle with an Election Commission sticker outside the house of the TMC leader in the early hours, after which they started protesting, he added.

Then, it was found that the officer of sector 17 Tapan Sarkar was visiting the TMC leader’s house with the EVMs, the official said.

The EVMs and VVPATs were seized and the officer suspended, he said. “The four machines are not being used in today’s polling. We have sought a report from the District Election Officer,” he added.

The sector officer claimed that he reached the area very late and found the polling booth closed, following that he decided to spend the night at his relative’s residence, unable to find any “safe place” to stay.

– Amit Baruah, PTI

7.30 am

COVID-19 protocols being adhered to in a polling booth in Joynagar, in South 24 Parganas, West Bengal, on April 6, 2021.

COVID-19 protocols being adhered to in a polling booth in Joynagar, in South 24 Parganas, West Bengal, on April 6, 2021.
 
| Photo Credit: Subham Dutta

 

Voting is underway with strict adherence to COVID-19 protocols in 16 seats in South 24 Parganas district (part II), seven in Howrah (part I) and eight in Hooghly (part I).

Over 78.5 lakh voters are eligible to exercise their franchise to decide the fate of 205 candidates, including BJP leader Swapan Dasgupta, state minister Ashima Patra and CPI(M) leader Kanti Ganguly.

– PTI

7 am

Polling began at 7 a.m. Long queues were seen outside polling stations, where voting will continue till 6.30 p.m.

– PTI

 

Voters' awareness campaign using a tram ahead of 3rd phase of West Bengal Assembly polls, in Kolkata, Monday, April 5, 2021.

Voters’ awareness campaign using a tram ahead of 3rd phase of West Bengal Assembly polls, in Kolkata, Monday, April 5, 2021.  
| Photo Credit: PTI

 

 

Section 144 CrPC in all 31 constituencies going to the poll

The Election Commission has described as sensitive all the 31 West Bengal assembly constituencies where voting will be held in the third phase on Tuesday and imposed prohibitory orders under Section 144 of the Cr PC in them, an official in it said.

The constituencies are spread over the districts of Howrah (Part I), Hooghly (Part I) and South 24 Parganas (Part II).

The order restricts unlawful assembly and movement, holding of public meetings, carrying of weapons, sticks, banners, placards by anybody as well as shouting slogans and using loudspeakers, he clarified.

 

 

Unprecedented deployment of Central forces in West Bengal

The Election Commission of India has deployed about 618 company of Central forces in West Bengal for the third phase of polling in the State in which 31 Assembly seats are going to polls on Tuesday.

Of the 618 companies of Central forces, 317 companies will be deployed in South 24 Parganas, the district where 16 Assembly seats are going to polls. 167 companies of Central forces will be developed in Hooghly and remaining in Howrah. Eight seats in Hooghly and seven in Howrah will go to polls in the third phase.

 

Confident of win in Bengal now, later in Delhi: Mamata

West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee on April 5 asserted that she would win the ongoing State polls despite injury and eventually aim for power in Delhi.

Also read: Modi insulting women by mocking Mamata, claims Trinamool

Training her guns at Prime Minister Narendra Modi and Home Minister Amit Shah, Ms. Banerjee who is seeking a third term in office said that West Bengal will be ruled by its own people.

 



Source link

राफेल डील को लेकर कांग्रेस के निशाने पर BJP, केंद्रीय मंत्री बोले- होमवर्क नहीं करते हैं राहुल, अब तो... 


कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट में मात खा चुकी है: रविशंकर प्रसाद (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) ने सीबीआई जांच के आदेश के बाद महाराष्ट्र के गृह मंत्री से सोमवार को इस्तीफा दे दिया. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने देशमुख के इस्तीफे को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को घेरने की कोशिश की. बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हम शुरू से एक निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे थे. उनके पद पर रहते मुंबई पुलिस जांच नहीं कर पाती. 

यह भी पढ़ें

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि आज कमाल हो गया. शरद पवार से सहमति लेकर मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे दिया. उद्धव ठाकरे कब बोलेंगे. उनका मौन कई बातों की ओर इशारा करता है. सचिन वाजे (Sachin Vaze) की कहानी कहां तक पहुंचेगी ये तो जांच में पता चलेगा. हमारी अपेक्षा ये है कि इस मामले की सारी परतें खोली जाएं. 

रविशंकर प्रसाद ने कहा, “अनिल देशमुख जो मांग कर रहे थे, वो पार्टी के लिए था, या सरकार के लिए था. इस मामले में कई परत निकली है. सभी की जांच होनी चाहिए. अनिल देशमुख ने कहा कि हम नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे रहे हैं. मुख्यमंत्री जी में कोई नैतिकता है या नहीं?? उद्धव ठाकरे जी आपकी नैतिकता कहां है? हम कहना चाहते हैं कि उद्धव ठाकरे का शासन करने का नैतिक आधार खत्म हो गया है. लूट का बड़ा षड्यंत्र हुआ है. कौन किसको प्रश्रय दे रहा था, सारे षड्यंत्र का पर्दाफाश होना चाहिए. 

राफेल सौदे को लेकर फ्रांसीसी न्यूज वेबसाइट के खुलासे पर कांग्रेस ने सरकार को घेरने की कोशिश की. इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी फिर राफेल पर बात कर रही है. सुप्रीम कोर्ट में मात खा चुके हैं. राहुल गांधी होम वर्क नहीं करते हैं, अब तो लगता है कि कांग्रेस प्रवक्ता भी होम वर्क नहीं करते हैं. कुछ मामला Rivalry का भी है. इस मामले में सुषेण गुप्ता का नाम आया है. ये तो सबको पता है. सलमान खुर्शीद पहले से बता चुके हैं. आरोप बिल्कुल बेबुनियाद है. सुरक्षा बल की मज़बूती को कब तक कम किया जाएगा. 



Source link

आज थम जाएगा चुनाव प्रचार को शोर, चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में मंगलवार को डाले जाएंगे वोट


प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:
असम, तमिलनाडु, केरल, बंगाल और पुड्डुचेरी में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार का आज आखिरी दिन है. आज पांचों जगह चुनाव प्रचार का शोर थम जाएगा. इन पांचों जगह मंगलवार को वोट डाले जाएंगे. असम और बंगाल में तीसरे चरण का मतदान है, जबकि तमिलनाडु, केरल और पुड्डुचेरी में एक ही चरण में वोट डाले जाएंगे.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. केरल में पूरे राज्य में 27 लाख मतदाता हैं. सत्तारूढ़ लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट, द यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट, जिसका कांग्रेस हिस्सा है और भाजपा  मुख्य रूप से चुनावी मैदान में हैं. राज्य की 140 विधानसभा सीटों पर इन तीनों के बीच कड़ी टक्कर है.

  2. केरल के वायनाड से लोकसभा सांसद कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज राज्य में चुनाव प्रचार करेंगे.

  3. असम में भाजपा नेता और मंत्री हेमंत बिस्वा प्रचार पर बैन खत्म होने के बाद दोबारा से चुनाव प्रचार शुरू करेंगे. उन पर बीपीएफ प्रमुख हाग्रामा मोहिलारी को जेल भेजने की धमकी देने पर बैन लगाया गया था. बीपीएफ पहले भाजपा की ही सहयोगी पार्टी थी. असम की 40 सीटों पर मंगलवार को मतदान होगा.

  4. तमिलनाडु में पिछले कुछ सप्ताह में जोर-शोर से चुनाव प्रचार देखने को मिला. राज्य की 234 सीटों पर मंगलवार को वोट डाले जाएंगे.एआईएडीएमके-बीजेपी, डीएमके-कांग्रेस, कमल हासन की मक्कल नीधि मय्यम और टीटीवी दिनाकरण की अम्मा मक्कल मुनेत्र काजगाव मैदान में हैं. 

  5. मंगलवार को पुड्डुचेरी की 30 सीटों पर भी चुनाव हैं. दो महीने पहले यहां वी नारायणसामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने बहुमत खो दिया था. नारायणसामी ने इसके लिए  विपक्षी दल भाजपा और एनआर कांग्रेस पर सरकार गिराने का आरोप लगाया था.

  6. पुड्डुचेरी में छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान रविवार शाम सात बजे थम जाएगा. इस संबंध में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत एक आदेश जारी किया गया है. हालांकि, प्रतिबंध के दौरान घर-घर जाकर प्रचार करने  पर मनाही नहीं है. 30 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए 324 उम्मीदवार मैदान में हैं. 

  7. बंगाल में मंगलवार को तीसरे चरण का मतदान है. बंगाल में टीएमसी और भाजपा के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है. वहीं कांग्रेस और लेफ्ट गठबंधन भी मैदान में है. 

  8. भाजपा ने बंगाल चुनाव में पूरा जोर लगा दिया है. आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बांगाल में भाजपा के लिए प्रचार करेंगे.

  9. पिछले सप्ताह बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कांग्रेस सोनिया गांधी, एनसीपी प्रमुख शरद पवार और अन्य विपक्षी पार्टियों से भाजपा के खिलाफ एकजुट होने की अपील की थी. 

  10. चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में जारी विधानसभा चुनाव में भाजपा के प्रचार अभियान का नेतृत्व करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब तक 23 रैलियां कर चुके हैं. इनमें से 10 रैलियां तो चार राज्यों में उन्होंने पिछले तीन दिनों में संबोधित की हैं. इनमें शनिवार का दिन भी शामिल है. भाजपा पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को सत्ता से बाहर करने और असम में सत्ता बरकरार रखने के लिए पूरा जोर लगा रही है और ये दोनों ही राज्य मोदी के प्रचार अभियान के केंद्र में हैं.



Source link

Corona Update

Corona Live Update